Skip to main content

काशी विश्वनाथ मंदिर कथा और इतिहास - Kashi Vishwanath Temple Story And History


काशी विश्वनाथ मन्दिर हिन्दुओं की धार्मिक और सांस्कृतिक राजधानी  वाराणसी में स्थित प्राचीन हिन्दु मंदिरों में से एक है । यह मंदिर भगवान शिव की 12 ज्योतिर्लिंगो में से एक है । 
गंगा मैया तट पर स्थित इस मंदिर के दर्शन मात्र से ही पापियों के पाप धुल जाते है । वाराणसी का प्राचीन नाम काशी है इसलिए मंदिर को काशी विश्वनाथ कहते है ।

काशी विश्वनाथ मंदिर कथा और इतिहास - Kashi Vishwanath Temple Story And History 


मंदिर का नाम  -  काशी विश्वनाथ मंदिर

स्थान              -  वाराणसी , उतरप्रदेश

स्थापक          -  महारानी अहिल्याबाई

स्थापना वर्ष    -  सन् 1780


Image Source : Google

काशी विश्वनाथ मंदिर कथा और इतिहास - Kashi Vishwanath Temple Story And History


काशी विश्वनाथ मंदिर का स्थापना काल अज्ञात है । इस पवित्र हिन्दु मंदिर का वर्णन अनेकों शास्त्रों मे आता है , जिससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है की यह मंदिर अधिपुराना है । इस मंदिर को लेकर अनेक धार्मिक कथाएँ प्रचलित है ।

काशी विश्वनाथ मंदिर कथा - 


इस कथा के अनुसार माता पार्वती ने भगवान शिव से पवित्र काशी नगरी मे निवास करने का आग्रह किया ।  भगवान शिव ने अपने भक्त के सपने में आकर आदेश दिया की जब तुम गंगा मे स्नान करोंगे तब दो शिवलिंगो के दर्शन होंगे , उन दोनों को जोड़कर किसी पवित्र स्थान पर स्थापित करोंगे । जिसके बाद भगवान शिव और माता पार्वती काशी नगरी में विराजमान हो गये ।


काशी विश्वनाथ मंदिर का इतिहास -  


काशी विश्वनाथ मंदिर का इतिहास हजारो वर्ष पुराना है । माना जाता है की इस मंदिर का जीर्णोध्दार काशी नरेश राजा हरिशचन्द्र ने करवाया था ।


सन् 1194 में विदेशी आक्रांता मुहम्मद गौरी ने तुड़वा दिया था । कुछ समय बाद एक धर्मप्रिय गुजराती व्यापारी ने विश्वनाथ मंदिर का पुन: निर्माण करवाया था । लेकीन एक बार फिर जौनपुर के सुल्तान महमुदशाह के आदेश पर फिर से मंदिर तुड़वा दिया गया ।


सन् 1585 में राजा टोडरमल ने काशी विश्वनाथ मंदिर का पुन: निर्माण करवाया । 1669 में क्रुर बादशाह औरंगजेब ने मंदिर को तोड़ने का आदेश दिया , मंदिर तोड़ने के बाद वहा पर ज्ञानवापी मस्जिद बनवाई गई ।

1777-80 में इंदौर की महारानी अहिल्याबाई होल्कर द्वारा इस मंदिर का निर्माण करवाया गया । कहा जाता है की स्वंय भगवान शिव ने महारानी अहिल्याबाई के सपने मे आकर मंदिर के पुन: निर्माण का आदेश दिया था । पंजाब के महाराजा रणजीत सिंह जी ने सोने का क्षत्र चढाया था ।

काशी विश्वनाथ मंदिर के बारे में - About Kashi Vishwanath Temple In Hindi


  • मंदिर मे चार द्वार है - शांति द्वार , कला द्वार , प्रतिष्ठा द्वार , निवृति । इन द्वारों का अपना अपना महत्व है ।

  • मंदिर के दक्षिण में स्थित  द्वार को " अघोर मुख " कहा जाता है , माना जाता है की इसी द्वार से भगवान शिव मंदिर मे प्रवेश करते है ।

  • मंदिर का मुख्य द्वार चाँदी का बना हुआ है ।

  • मंदिर का क्षत्र सोने का बना हुआ है , यह सोना महाराजा रणजीत सिंह ने चढाया था ।

  • विश्वनाथ ज्योतिर्लिंग दो भागों मे बटाँ हुआ है , दाहिनी भाग में माता सती और दुसरे भाग में भगवान शिव ।

  • भगवान विश्वनाथ गुरू और राजा के रूप मे विराजते है ,  बाबा विश्वनाथ को राजराजेश्वर भी कहते है ।



  • मंदिर के गर्भग्रह में गुबंद श्रीयंत्र स्थापित है ।

R E A D  M O R E :


Comments

Popular posts from this blog

Filmyzilla 2020 : South indian Movie , Bollywood Movie , Hollywood Movie , Tv Show |

Filmyzilla 2020 : भारत के उन पायरेटेड वेबसाइटस् में से एक है जो Movie Release होने के तुरंत बाद अपनी वेबसाइटस् पर Latest Movies , South indian dubbed movie , Bollywood Movies , Hollywood Movies , Tv Shows अपनी वेबसाइटस् पर उपलब्ध करवाती है । जिसे आप आसानी से Movie Download कर सकते है ।

अगर आप Filmyzilla 2020 पर Movies या  Tv Show डाउनलोड करने जा रहे है तो कृप्या आप इस पोस्ट को जरूर पढे , क्योंकि इसमें हम आपको Filmyzilla 2020 के बारे में सब कुछ बताने वाले है ।

हम आपको यह भी बताऐंगे की Filmyzilla 2020  से Movie डाउनलोड करना चाहिए या नही , अगर करना चाहिए तो कैसे ?


Filmyzilla 2020 : South indian Movie , Bollywood Movie , Hollywood Movie , Tv Show |
Filmyzilla क्या है 
 Filmyzilla एक पॉपुलर पाइरेटेड वेबसाइट है जो Movie Release के तुरंत बाद उन Movies  को अपनी साइट पर अपलोड करती है । इस वेबसाइट पर Bollywood movies , South indian Movie , Malalayam Movies , Tamil Movie , Hollywood Movie , Tv Show गैर - कानुनी रूप से अपलोड और डाउनलोड किये जाते है ।

यहा से आप South indian Movie 2020 Download कर सक…

Navin Kumar Kabaddi Biography In Hindi -नवीन कुमार का जीवन परिचय

Navin Kumar Kabaddi Biography In Hindi -(Dabbang Delhi ) , ( PKL)




नाम              -         नविन कुमार गोयत 
उपनाम         -          नविन एक्सप्रेस

पेशा            -           कब्बडी (रेडर )
जन्मदिन      -            14  फरवरी 2000

डेब्यू           -         प्रो कब्बडी सीजन 6  (2018 )
ताकत       -          रनिंग हैंड टच

कोच         -           कृष्णा कुमार हूडा 

शारीरिक रूप -

लम्बाई         -  5 फिट 10 इंच 

वजन         -    76 किलोग्राम 

निजी जीवन   - 
जन्म स्थान   - भिवानी हरियाणा ( भारत ) 

  शिक्षा          -   बी,ए

जन्म स्थान   - भिवानी हरियाणा ( भारत )  धर्म             -  हिन्दू 
जाति           -  जाट 

विवाह         - नहीं हुआ

यशस्वी जायसवाल जीवनी - Yashasvi Jaiswal Biography In hindi

Yashasvi Jaiswal - घरेलु क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले सबसे युवा खिलाड़ी यशस्वी जायसवाल अपना घरेलु क्रिकेट मुंबई की तरफ से खेलते है । जायसवाल सलामी बल्लेबाज के तौर पर टीम में अपनी भुमिका निभाते है । यह युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ी आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स की तरफ से खेलते है ।
यशस्वी जायसवाल को संघर्ष का दुसरा नाम कहे तो कोई हर्ज नही होगा क्योंकी इन्होंने इस मुकाम पर पहुचनें के लिए बहुत संघर्ष और परिश्रम किया है ।
यशस्वी जायसवाल जीवनी - Yashasvi Jaiswal Biography In hindi
नाम(Name)    -     यशस्वी जायसवाल जन्मदिन(Birthday)  - 28 दिसम्बर 2001 पिता(Father)    -     भुपेंद्र कुमार जायसवाल माता(Mother)   -     कंचन जायसवाल प्रशिक्षक(Coach)  -   ज्वाला सिंह टीम(Team)         - मुंबई , राजस्थान रॉयल्स

यशस्वी जायसवाल जीवनी - Yashasvi Jaiswal Biography in hindi क्रिकेटर यशस्वी जायसवाल का जन्म 28 दिसम्बर 2001 को उतरप्रदेश के भदोही जिले के सुरियावां गाँव में हुआ । इनके पिता का नाम भुपेन्द्र कुमार जायसवाल है , जो एक छोटी सी हार्डवेयर दुकान के मालिक है और यशस्वी की माता का नाम कंचन जायसवाल है , जो एक ग…