Skip to main content

History of Bicycle in Hindi-साईकल का इतिहास

Bicycle history in hindi

19 अप्रैल को World bicycle day  मनाया जाता है । क्या आप जानते है , bicycle का अविष्कार किसने किया और क्यों किया ?

bicycle का इतिहास बहुत पुराना है । वर्तमान समय मे देश को pollution मुक्त करने के लिए bicycle को बढावा देना चाहिए ।


  साईकल का इतिहास -  History of Bicycle in Hindi


साईकल इतिहास बहुत पुराना है , इतिहासकारो के अनुसार साईकल का अविष्कार 1418 मे इटली के Giovanni fontana द्वारा किया गया । यह साईकल 4 पहिये की हुआ करती थी । लेकीन समय के साथ - साथ इसमे परिवर्तन होते गये ।

400 साल बाद जर्मनी के karl freiherr von drais ने cycle को एक नया आकार दिया , 1817 में उन्होंने cycle को 4 पहिये़ से 2 पहिये़ मे बदला । अब लोगों को cycle चलाने मे आसानी होने लगी थी ,इस कारण ये अाविष्कार युरोप मे बहुत प्रसिध्द हुआ । युरोप मे इस cycle को hobby horse के नाम से विख्यात हुई ।

लेकीन इस cycle मे अभी भी बहुत सी कमियां थी , अभी भी बहुत से बदलावों की आवश्यकता थी । इस साईकल को चलाने के लिए पैरों को पीछे धकेलना पड़ता था , यह कार्य बहुत ही थका देने वाला था ।

साईकल हेतु पैंडल बनाने का श्रेय स्कॉटलैंड के एक लौहार Kirkpatrick Macmillan को जाता है । एक बार Macmillan  ने कुछ लोगों को साईकल चलाते हुए देखा उसने गौर किया की वे लोग अपने से धक्का देकर साईकल चला रहे थे , Macmillan ने साईकल को सहज रूप से चलाने हेतु 1839 में पैंडल का अविष्कार किया , जिससे साईकल चलाने मे थोडी़ सी आसानी हुई । लेकीन उन्होंने पैंडल के साथ - साथ अनेक लौहे औजार जोड़े , जिससे साईकल वजन ज्यादा हो गया था । Macmillan की साईकल का वजन करीब 26 Kg  था ।

1870 में साईकल मे रबड़ के टायर का उपयोग किया गया , जिससे उसे चलाने मे आसानी होने लगी । लोगों ने इस साईकल को बहुत पसंद किया , अमेरिका मे इसको सबसे ज्यादा पंसद किया गया । इस साईकल को Penny Fathing नाम दिया गया । लेकीन इस साईकल का एक पहिया बड़ा और एक छोटा होने के कारण इसे सुरक्षित नही समझा गया । इस साईकल से दुर्घटना होने की सम्भावना रहती थी ।

1880 में John Kemp Starley ने एक साईकल का निर्माण किया , जिसका मुल उद्देश्य Safety था । यह पहले की तुलना मे बेहतर थी , यह साईकल समान आकार की थी । इसके बाद मे साईकल के विकास मे तेजी हुई ।

1920  मे सर्वप्रथम बच्चों के लिए साईकल का निर्माण किया गया । 1960 के आते आते साईकलो मे Racing जैसे कार्य किये जाने लगे ।



READ MORE :
History articles


आशा करते आपको हमारा ये Article " Bycycle history in Hindi " पसंद आया होगा । कृप्या अपने इंस्टाग्राम या टवीटर खाते पर साझा करे 

Comments

Popular posts from this blog

Filmyzilla 2020 : South indian Movie , Bollywood Movie , Hollywood Movie , Tv Show |

Filmyzilla 2020 : भारत के उन पायरेटेड वेबसाइटस् में से एक है जो Movie Release होने के तुरंत बाद अपनी वेबसाइटस् पर Latest Movies , South indian dubbed movie , Bollywood Movies , Hollywood Movies , Tv Shows अपनी वेबसाइटस् पर उपलब्ध करवाती है । जिसे आप आसानी से Movie Download कर सकते है ।

अगर आप Filmyzilla 2020 पर Movies या  Tv Show डाउनलोड करने जा रहे है तो कृप्या आप इस पोस्ट को जरूर पढे , क्योंकि इसमें हम आपको Filmyzilla 2020 के बारे में सब कुछ बताने वाले है ।

हम आपको यह भी बताऐंगे की Filmyzilla 2020  से Movie डाउनलोड करना चाहिए या नही , अगर करना चाहिए तो कैसे ?


Filmyzilla 2020 : South indian Movie , Bollywood Movie , Hollywood Movie , Tv Show |
Filmyzilla क्या है 
 Filmyzilla एक पॉपुलर पाइरेटेड वेबसाइट है जो Movie Release के तुरंत बाद उन Movies  को अपनी साइट पर अपलोड करती है । इस वेबसाइट पर Bollywood movies , South indian Movie , Malalayam Movies , Tamil Movie , Hollywood Movie , Tv Show गैर - कानुनी रूप से अपलोड और डाउनलोड किये जाते है ।

यहा से आप South indian Movie 2020 Download कर सक…

यशस्वी जायसवाल जीवनी - Yashasvi Jaiswal Biography In hindi

Yashasvi Jaiswal - घरेलु क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले सबसे युवा खिलाड़ी यशस्वी जायसवाल अपना घरेलु क्रिकेट मुंबई की तरफ से खेलते है । जायसवाल सलामी बल्लेबाज के तौर पर टीम में अपनी भुमिका निभाते है । यह युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ी आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स की तरफ से खेलते है ।
यशस्वी जायसवाल को संघर्ष का दुसरा नाम कहे तो कोई हर्ज नही होगा क्योंकी इन्होंने इस मुकाम पर पहुचनें के लिए बहुत संघर्ष और परिश्रम किया है ।
यशस्वी जायसवाल जीवनी - Yashasvi Jaiswal Biography In hindi
नाम(Name)    -     यशस्वी जायसवाल जन्मदिन(Birthday)  - 28 दिसम्बर 2001 पिता(Father)    -     भुपेंद्र कुमार जायसवाल माता(Mother)   -     कंचन जायसवाल प्रशिक्षक(Coach)  -   ज्वाला सिंह टीम(Team)         - मुंबई , राजस्थान रॉयल्स

यशस्वी जायसवाल जीवनी - Yashasvi Jaiswal Biography in hindi क्रिकेटर यशस्वी जायसवाल का जन्म 28 दिसम्बर 2001 को उतरप्रदेश के भदोही जिले के सुरियावां गाँव में हुआ । इनके पिता का नाम भुपेन्द्र कुमार जायसवाल है , जो एक छोटी सी हार्डवेयर दुकान के मालिक है और यशस्वी की माता का नाम कंचन जायसवाल है , जो एक ग…

Navin Kumar Kabaddi Biography In Hindi -नवीन कुमार का जीवन परिचय

Navin Kumar Kabaddi Biography In Hindi -(Dabbang Delhi ) , ( PKL)




नाम              -         नविन कुमार गोयत 
उपनाम         -          नविन एक्सप्रेस

पेशा            -           कब्बडी (रेडर )
जन्मदिन      -            14  फरवरी 2000

डेब्यू           -         प्रो कब्बडी सीजन 6  (2018 )
ताकत       -          रनिंग हैंड टच

कोच         -           कृष्णा कुमार हूडा 

शारीरिक रूप -

लम्बाई         -  5 फिट 10 इंच 

वजन         -    76 किलोग्राम 

निजी जीवन   - 
जन्म स्थान   - भिवानी हरियाणा ( भारत ) 

  शिक्षा          -   बी,ए

जन्म स्थान   - भिवानी हरियाणा ( भारत )  धर्म             -  हिन्दू 
जाति           -  जाट 

विवाह         - नहीं हुआ