Skip to main content

करमैती बाई का जीवन परिचय ( Karmaiti Bai Biography In Hindi )

करमैती बाई - 


करमैती बाई भगवान श्री कृष्ण की बहुत बड़ी भक्त थी | मीरा बाई के समान अपने सम्पूर्ण जीवन को कृष्णभक्ति में लगा दिया |

करमैती बाई का जीवन परिचय ( Karmaiti Bai Biography In Hindi )


नश्वर पति-रति त्यागि कृष्णपदसो रति जोरि  ।
सखै जगत फाँस तरकि तिनुका ज्यो  तोरी    ।।



जयपुर के पास खण्डेला नामक स्थान था । वहा शेखावत सरदार राज्य किया करते थे । पण्डित परशुराम यहा के राजपण्डित थे । इन्ही परशुरामजी के यहा सद्गुणी करमैती बाई का जन्म हुआ । करमैती बाई का मन बचपन से ही भगवद्भक्ति मे लगा था । वह निरन्तर श्री कृष्ण के नाम का जाप किया करती थी और एकान्त स्थल मे भगवद् ध्यान लगाया करती थी । करमैती बाई का भगवान श्री कृष्ण के प्रति अथाह प्रेम था । वह भगवान का जाप जाप करते करते रोने लगती थी ।


निर्मल कुल काँथड़ा धन्य धरसा जेहि जाई ।
करि वृंदावन -  वास संत सुख करत बड़ाई ।


अब करमैती बाई की उम्र विवाह योग्य हो चुकी थी । माता-पिता  सुयोग्य वर की तलाश करने लगे लेकीन करमैती बाई को विवाह की बातें नही सुहाती थी । वह लज्जावशं माता के सामने कुछ नही बोल पाती थी । इच्छा न होते हुए भी पिता की इच्छा से करमैती का विवाह हो गया । परन्तु वह अपने आप को पहले ही श्री कृष्ण को समर्पित कर चुकी थी ।

संसार - स्वाद सुख त्याग करि फेरि नही तिनतिन चही ।
कठीनकाल कलयुगमह करमैती रही निःकलंक ।।


उसके ससुराल वाले उसे लेने आ गये । उसे पता चला की उसके ससुराल वाले भगवान को नही मानते । वे वैष्णवो और संतो के विरोधी है । वहा उसे अपने ठाकुरजी की सेवा का मौका नही मिलेगा । यह सब सोच कर वो व्याकुल हो उठी । उसको एक ही रास्ता नजर आ रहा था ।

रात्रि के समय करमैती बाई अकेले ही घर से निकल पड़ी । उसे अब किसी का भय नही रहा । करमैती बाई रात्रि के अंधकार मे चली जा रही थी उसे यह सुधि नही की मैं कौन हुँ और कहा जा रही हुँ ।

दिसि अरू विदिसि पंथ नहि सुझा ।
को मै  चलेऊ  कहा   नहि    बुझा ।।


करमैती की माता ने जब बेटी को घर मे नही पाया तो रोती हुई अपने पति परशुराम के पास जाकर यह दुः सवांद सुनाया । परशुराम को बड़ा दुख हुआ । एक तो पुत्री का स्नेह और दुसरा लोक -  लाज का डर । राजपण्डित होने के कारण परशुराम राजा के पास गये और सारा वृतान्त कह सुनाया । राजा ने सहानुभुति प्रकृट करते हुए चारो ओर अपने घुड़सवार दौड़ाये ।


दो घुड़सवार उस दिशा मे भी गये जिस दिशा मे करमैती जा रही थी । घोड़ो की टाँपो की आवाज सुनायी दी । तब करमैती को समझ मे आ गया की ये उसकी ही तलाश मे आ रहे है । उसने चारो और नजर दौड़ाई कुछ नजर नही आ रहा था सिवाय रेगिस्थान के । पास मे एक मरा हुआ ऊँट पड़ा था । सियारो और गिध्दो ने उसके पेट़ को फाड़ कर सारा माँस बाहर निकाल डाला था । करमैती बाई उस ऊँट के पेट मे जा छिपी । घुड़सवार पास से निकल गये । दुर्गन्ध के मारे वे तो वहा ठहर ही नही पाये ।


तीन दिन तक करमैती ऊँट के पेट मे प्यारे श्याम के ध्यान मे पड़ी रही । चौथे दिन वहा से निकली ।  करमैती ने पहले हरिद्वार पहुँच कर भागीरथी मे स्नान किया । फिर चलते चलते वृँदावन जा पहुची । उस जमाने मे वृँदावन केवल सच्चे वैरागी वैष्णव साधुओ का केन्द्र था।


वृँदावन पहुचकर करमैती मानो आनन्दसागर मे डुब गयी । वह जंगल मे ब्रह्मकुण्ड मे रहने लगी । इधर परशुराम को कही पता नही चला तो ढुंढते ढुंढते वृँदावन पहुचे । परशुराम करमैती से साथ चलने की विनती करने लगे । तो करमैती ने अपने पिता परशुराम से कहा " पिताजी यहा आकर कौन वापस गया है ! फिर मैं तो उस प्रेममय के प्रेमसागर मे खुद को डुबो चुकी हुँ "। अपनी पुत्री की ये ज्ञानपुर्ण बातें सुकर परशुराम वापस घर आ गये ।


करमैती बाई अब वृँदावन के पास एक ब्रह्मकुण्ड नामक स्थान मे रहनी लगी जो सम्पुर्ण जंगल से घिरा हुआ था । वहा पर श्रीकृष्ण की भक्ति मे लीन रहती । करमैती बाई ने अपना शेष जीवन इसी स्थान पर गुँजारा

Comments

Popular posts from this blog

Filmyzilla 2020 : South indian Movie , Bollywood Movie , Hollywood Movie , Tv Show |

Filmyzilla 2020 : भारत के उन पायरेटेड वेबसाइटस् में से एक है जो Movie Release होने के तुरंत बाद अपनी वेबसाइटस् पर Latest Movies , South indian dubbed movie , Bollywood Movies , Hollywood Movies , Tv Shows अपनी वेबसाइटस् पर उपलब्ध करवाती है । जिसे आप आसानी से Movie Download कर सकते है ।

अगर आप Filmyzilla 2020 पर Movies या  Tv Show डाउनलोड करने जा रहे है तो कृप्या आप इस पोस्ट को जरूर पढे , क्योंकि इसमें हम आपको Filmyzilla 2020 के बारे में सब कुछ बताने वाले है ।

हम आपको यह भी बताऐंगे की Filmyzilla 2020  से Movie डाउनलोड करना चाहिए या नही , अगर करना चाहिए तो कैसे ?


Filmyzilla 2020 : South indian Movie , Bollywood Movie , Hollywood Movie , Tv Show |
Filmyzilla क्या है 
 Filmyzilla एक पॉपुलर पाइरेटेड वेबसाइट है जो Movie Release के तुरंत बाद उन Movies  को अपनी साइट पर अपलोड करती है । इस वेबसाइट पर Bollywood movies , South indian Movie , Malalayam Movies , Tamil Movie , Hollywood Movie , Tv Show गैर - कानुनी रूप से अपलोड और डाउनलोड किये जाते है ।

यहा से आप South indian Movie 2020 Download कर सक…

यशस्वी जायसवाल जीवनी - Yashasvi Jaiswal Biography In hindi

Yashasvi Jaiswal - घरेलु क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले सबसे युवा खिलाड़ी यशस्वी जायसवाल अपना घरेलु क्रिकेट मुंबई की तरफ से खेलते है । जायसवाल सलामी बल्लेबाज के तौर पर टीम में अपनी भुमिका निभाते है । यह युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ी आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स की तरफ से खेलते है ।
यशस्वी जायसवाल को संघर्ष का दुसरा नाम कहे तो कोई हर्ज नही होगा क्योंकी इन्होंने इस मुकाम पर पहुचनें के लिए बहुत संघर्ष और परिश्रम किया है ।
यशस्वी जायसवाल जीवनी - Yashasvi Jaiswal Biography In hindi
नाम(Name)    -     यशस्वी जायसवाल जन्मदिन(Birthday)  - 28 दिसम्बर 2001 पिता(Father)    -     भुपेंद्र कुमार जायसवाल माता(Mother)   -     कंचन जायसवाल प्रशिक्षक(Coach)  -   ज्वाला सिंह टीम(Team)         - मुंबई , राजस्थान रॉयल्स

यशस्वी जायसवाल जीवनी - Yashasvi Jaiswal Biography in hindi क्रिकेटर यशस्वी जायसवाल का जन्म 28 दिसम्बर 2001 को उतरप्रदेश के भदोही जिले के सुरियावां गाँव में हुआ । इनके पिता का नाम भुपेन्द्र कुमार जायसवाल है , जो एक छोटी सी हार्डवेयर दुकान के मालिक है और यशस्वी की माता का नाम कंचन जायसवाल है , जो एक ग…

Navin Kumar Kabaddi Biography In Hindi -नवीन कुमार का जीवन परिचय

Navin Kumar Kabaddi Biography In Hindi -(Dabbang Delhi ) , ( PKL)




नाम              -         नविन कुमार गोयत 
उपनाम         -          नविन एक्सप्रेस

पेशा            -           कब्बडी (रेडर )
जन्मदिन      -            14  फरवरी 2000

डेब्यू           -         प्रो कब्बडी सीजन 6  (2018 )
ताकत       -          रनिंग हैंड टच

कोच         -           कृष्णा कुमार हूडा 

शारीरिक रूप -

लम्बाई         -  5 फिट 10 इंच 

वजन         -    76 किलोग्राम 

निजी जीवन   - 
जन्म स्थान   - भिवानी हरियाणा ( भारत ) 

  शिक्षा          -   बी,ए

जन्म स्थान   - भिवानी हरियाणा ( भारत )  धर्म             -  हिन्दू 
जाति           -  जाट 

विवाह         - नहीं हुआ