Skip to main content

पटाखों का इतिहास(History of firecrackers in Hindi )



पटाखो का इतिहास -    दिपावली का पर्व आने के 1 माह पुर्व ही बाजार पटाखों और फुल-जड़ीयों से सज जाते है , दिपावली का त्योहार करोड़ो भारतीयों के आस्था का प्रतीक है , इसी दिन भगवान श्रीराम अयोध्या पधारे थे । दिपावली के दिन पटाखे जलाने की परंपरा है , आपको यह बात जानकर हैरानी होगी की भारत मे पटाखो का व्यापार 10 हजार करोड़ से भी अधिक का है , जाने पटाखों का इतिहास ।

पटाखो का इतिहास(History of firecrackers in Hindi )


पटाखों का अविष्कार -


पटाखो का अविष्कार 9वी से 10वी शताब्दी चीन मे हुआ था , लेकिन इससे जुडी़ 2 कथाये है ।

1.  इस कथा के अनुसार चीन के लोग जंगली जानवरो और बुरी आत्माओ को भगाने के लिए बाज को जलाते थे , बाज खोखला होता है और बीच-बीच मे गाँठे होती है । बाज को आग लगाने से एक धमाकेदार आवाज होती , इस आवाज को सुनकर जानवर भाग जाते थे । उस समय चीन मे त्योहारो व आयोजनो मे बाज का उपयोग पटाखे के रूप मे करते थे ।

इन सब को देखते हुए चीन के रसायन शास्त्रियों ने कुछ रसायनो को मिलाकर एक मिश्रण तैयार किया । अब इसके साथ बाज को जलाने से और भी तेज आवाज आती ।

13वीं सदी मे इटालियन यात्री मार्को पोलो चीन से इस मिश्रण के कुछ Sample अपने साथ अपने साथ इटली ले गया , इटली मे इन मिश्रणो पर अनेको प्रकार के शोध किये गये । इसके फलस्वरूप पटाखो के कई रूप सामने आऐ । आधुनिक पटाखो का श्रेय इटली और फ्रांस को ही जाता है ।


2.  इस कहानी के अनुसार चीन मे एक बावर्ची मसालेदार खाना बना रहा था । बावर्ची ने गलती से आग मे पोटेशियम नाइट्रेट डाला जिससे जोर से आवाज आई और आग मे रंगबिरंगी लपते देखने को मिली । यह देख कर लोगो की इसके प्रति उत्सुकता बढी और कोयला और सल्फर को आग मे डाला गया जिससे ओर तेज आवाज निकली ।

भारत मे पटाखों का प्रचलन -

भारतीय शास्त्रो के अनुसार भारत मे पटाखों का प्रचलन ईसा पुर्व काल से ही है , कोटिल्य ( चाणक्य ) की पुस्तक अर्थशास्त्र मे एक चुर्ण का वर्णन मिलता है जिसे जलाने पर तेजी से लपटे पैदा होती थी ।

इतिहासकारो के अनुसार 12वीं शताब्दी मे बंगाल के बोध्द धर्मगुरू दीपांकर ने भारत मे सर्वप्रथम पटाखों/आतिश का प्रचलन शुरू किया । कहा जाता है की दीपांकर को यह ज्ञान चीन , तिबब्त के
 के दौरान प्राप्त हुआ था ।

बहुत से इतिहासकारो का यह भी कहना है की पटाखे मुगलो़ की देन है , लेकीन यह कहना गलत नही होगा की पटाखे मुगलो़ के भारत आगमन से पुर्व भी थे . दारा शिकोह कि शादी की एक पेंटिग मे पटाखे व पटाखे जलाते हुए लोगो को चित्रित किया गया है .


भारत की पटाखा कंपनिया  -

भारत मे सर्वप्रथम पटाखा कंपनी कलकत्ता मे शुरू हुई थी .

भारत मे सबसे ज्यादा पटाखों का उत्पादन तमिलनाडु राज्य के शिवकाशी शहर मे होता है .  शिवकाशी को Capital of indian firecrackers भी कहा जाता है , क्योकी भारत का 55% पटाखा उत्पादन शिवकाशी से ही होता है .


ये भी देखे -

दिवेर का भंयकर युध्द 

छत्रपति शिवाजी महाराज की जीवनी

चारमीनार का इतिहास




Comments

Popular posts from this blog

Filmyzilla 2020 : South indian Movie , Bollywood Movie , Hollywood Movie , Tv Show |

Filmyzilla 2020 : भारत के उन पायरेटेड वेबसाइटस् में से एक है जो Movie Release होने के तुरंत बाद अपनी वेबसाइटस् पर Latest Movies , South indian dubbed movie , Bollywood Movies , Hollywood Movies , Tv Shows अपनी वेबसाइटस् पर उपलब्ध करवाती है । जिसे आप आसानी से Movie Download कर सकते है ।

अगर आप Filmyzilla 2020 पर Movies या  Tv Show डाउनलोड करने जा रहे है तो कृप्या आप इस पोस्ट को जरूर पढे , क्योंकि इसमें हम आपको Filmyzilla 2020 के बारे में सब कुछ बताने वाले है ।

हम आपको यह भी बताऐंगे की Filmyzilla 2020  से Movie डाउनलोड करना चाहिए या नही , अगर करना चाहिए तो कैसे ?


Filmyzilla 2020 : South indian Movie , Bollywood Movie , Hollywood Movie , Tv Show |
Filmyzilla क्या है 
 Filmyzilla एक पॉपुलर पाइरेटेड वेबसाइट है जो Movie Release के तुरंत बाद उन Movies  को अपनी साइट पर अपलोड करती है । इस वेबसाइट पर Bollywood movies , South indian Movie , Malalayam Movies , Tamil Movie , Hollywood Movie , Tv Show गैर - कानुनी रूप से अपलोड और डाउनलोड किये जाते है ।

यहा से आप South indian Movie 2020 Download कर सक…

यशस्वी जायसवाल जीवनी - Yashasvi Jaiswal Biography In hindi

Yashasvi Jaiswal - घरेलु क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले सबसे युवा खिलाड़ी यशस्वी जायसवाल अपना घरेलु क्रिकेट मुंबई की तरफ से खेलते है । जायसवाल सलामी बल्लेबाज के तौर पर टीम में अपनी भुमिका निभाते है । यह युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ी आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स की तरफ से खेलते है ।
यशस्वी जायसवाल को संघर्ष का दुसरा नाम कहे तो कोई हर्ज नही होगा क्योंकी इन्होंने इस मुकाम पर पहुचनें के लिए बहुत संघर्ष और परिश्रम किया है ।
यशस्वी जायसवाल जीवनी - Yashasvi Jaiswal Biography In hindi
नाम(Name)    -     यशस्वी जायसवाल जन्मदिन(Birthday)  - 28 दिसम्बर 2001 पिता(Father)    -     भुपेंद्र कुमार जायसवाल माता(Mother)   -     कंचन जायसवाल प्रशिक्षक(Coach)  -   ज्वाला सिंह टीम(Team)         - मुंबई , राजस्थान रॉयल्स

यशस्वी जायसवाल जीवनी - Yashasvi Jaiswal Biography in hindi क्रिकेटर यशस्वी जायसवाल का जन्म 28 दिसम्बर 2001 को उतरप्रदेश के भदोही जिले के सुरियावां गाँव में हुआ । इनके पिता का नाम भुपेन्द्र कुमार जायसवाल है , जो एक छोटी सी हार्डवेयर दुकान के मालिक है और यशस्वी की माता का नाम कंचन जायसवाल है , जो एक ग…

Navin Kumar Kabaddi Biography In Hindi -नवीन कुमार का जीवन परिचय

Navin Kumar Kabaddi Biography In Hindi -(Dabbang Delhi ) , ( PKL)




नाम              -         नविन कुमार गोयत 
उपनाम         -          नविन एक्सप्रेस

पेशा            -           कब्बडी (रेडर )
जन्मदिन      -            14  फरवरी 2000

डेब्यू           -         प्रो कब्बडी सीजन 6  (2018 )
ताकत       -          रनिंग हैंड टच

कोच         -           कृष्णा कुमार हूडा 

शारीरिक रूप -

लम्बाई         -  5 फिट 10 इंच 

वजन         -    76 किलोग्राम 

निजी जीवन   - 
जन्म स्थान   - भिवानी हरियाणा ( भारत ) 

  शिक्षा          -   बी,ए

जन्म स्थान   - भिवानी हरियाणा ( भारत )  धर्म             -  हिन्दू 
जाति           -  जाट 

विवाह         - नहीं हुआ